0 0
Read Time:4 Minute, 56 Second


(धर्मेंद्र सिंह भदौरिया/मनीषा भल्ला) सरकार ने शादी समारोहों में छूट की घोषणा तो सितंबर में ही कर दी थी, मगर सही मायनों में 25 नवंबर को देवउठनी एकादशी के साथ देश में वेडिंग सीजन अनलॉक होगा। यह जरूर है कि कोरोना के चलते शादियों का स्वरूप बदला है। इंडस्ट्री विशेषज्ञों का कहना है कि मेहमानों की संख्या सीमित होने से जो बजट बच रहा है, उससे लोग डेस्टिनेशन वेडिंग की हसरत पूरी कर रहे हैं।

बीते साल के मुकाबले इस बार डेस्टिनेशन वेडिंग्स की बुकिंग 25 से 30% ज्यादा है। यह अनलॉक इसलिए भी खास होगा क्योंकि नवंबर-दिसंबर में सिर्फ 9 शुभ मुहूर्त हैं। ऐसे में न सिर्फ लॉकडाउन में रुकी शादियां इसी नवंबर-दिसंबर में हो रही हैं, बल्कि 2021 की शुरुआत में शादी की प्लानिंग करने वाले भी अब इसी सीजन में शादी कर लेना चाहते हैं।

लोगों में संशय है कि कहीं दोबारा कोरोना के मामले बढ़ने से सख्ती न बढ़ जाए। हालात ये हैं कि दिसंबर के एक-एक दिन में लाखों शादियां हैं। कंफेडरेशन ऑफ इंडिया ट्रेडर्स एसोसिएशन के नेशनल प्रेसीडेंट (कैट) बीसी भरतिया ने कहा कि देश में शादियों का सालाना 4.5 से पांच लाख करोड़ रुपए का कारोबार है। 14 दिसंबर तक हम 50 हजार करोड़ रुपए का कारोबार कर लेंगे।

फिल्म अभिनेत्री काजल अग्रवाल की सेलिब्रेटी वेडिंग प्लानर अंबिका गुप्ता बताती हैं कि जो लोग शादी पर ज्यादा खर्च करना चाहते हैं वे डेस्टिनेशन वेडिंग और जो कम खर्च करना चाहते हैं वे अपने शहर में 50-100 किमी की दूरी पर ऑफबीट लोकेशन पर शादी कर रहे हैं। वजह है कि मेहमानों की सूची छोटी हो गई है। पहले जो लोग शादी में 1,000 लोगों को बुलाते थे वे अब 20-30 लोगों को बुला रहे हैं।

नए डेस्टिनेशन में पुड्‌डुचेरी की ब्रिटिशकाल की इमारतें खूब पसंद की जा रही है। इसके अलावा जयपुर, उदयपुर, जोधपुर, सोहना, मानेसर, मुंबई के पास पूना, लोनावाला, गोवा और चेन्नई के पास महाबलीपुरम जैसी जगहें पैक हैं। गोवा टूरिज्म एंड ट्रेवल एसोसिएशन के प्रेसीडेंट नीलेश शाह बताते हैं कि यहां लॉकडाउन खुलने पर होटल ऑक्यूपेंसी 10 से 12% थी जो अब 80 से 90% हो गई है।

ओयो वेडिंग डॉट इन के सीईओ संदीप लोधा बताते हैं कि शादियों पर 72% क्वेरीज प्री-कोविड के स्तर पर वापस आने लगी हैं। डेस्टिनेशन वेडिंग बुकिंग के मामले में कंपनी प्री-कोविड बुकिंग की ही तरह काम करने लगी है। बॉलीवुडनाच इवेंट के निदेशक राहुल वर्मा बताते हैं कि मुहुर्त के शुरू के दस दिन में ही पूरे साल का बिजनेस होने वाला है क्योंकि शादियां इतनी हैं कि सांस लेने की फुर्सत नहीं है।

वेडिंग सीजन में होटल 72% भर गए

  • होटल इंडस्ट्री की ऑक्यूपेंसी प्री कोविड की 72% पहुंच गई है। गोवा, केरल जैसे वेडिंग डेस्टिनेशन में यह ऑक्यूपेंसी 85% से ज्यादा पहुंच गई है।
  • बुकिंग देखते हुए होटल वालों ने रेट 25% बढ़ा दिए हैं। देश में 1, 7, 8, 9 और 11 दिसंबर को सर्वाधिक शादियां हैं।
  • कंपनियों ने शादियों के लिए मल्टी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग सर्विस शुरू की है। जिसमें शादी के सभी इवेंट कवर किए जाते हैं। जो लोग शादी में शामिल नहीं हो सकते हैं उनके लिए वर्चुअल अनुभव मजेदार है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


देश में 1, 7, 8, 9 और 11 दिसंबर को सर्वाधिक शादियां हैं।

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply