0 0
Read Time:3 Minute, 52 Second


प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन ने व्हाइट हाउस के लिए कुछ नई नियुक्तियां की हैं। भारतीय मूल की अमेरिकी माला अडिगा को प्रेसिडेंट इलेक्ट की पत्नी जिल बाइडेन का पॉलिसी डायरेक्टर बनाया गया है। खास बात ये है कि माला राष्ट्रपति चुनाव के दौरान भी बाइडेन और कमला हैरिस के साथ लगातार थीं। उस दौरान माला ने बतौर कैम्पेन पॉलिसी एडवाइजर काम किया था। माला एकेडमिक स्ट्रैटजिस्ट हैं। इसके अलावा उन्हें फॉरेन पॉलिसी के बारे में गहरी जानकारी है। बराक ओबामा के दूसरे कार्यकाल में माला बतौर एडवाइजर काम कर चुकी हैं।

अहम भूमिका होगी
जिल बाइडेन पहले ही साफ कर चुकी हैं कि वे व्हाइट हाउस में आने के बाद यानी फर्स्ट लेडी बनने के बाद भी प्रोफेसर के तौर पर अपना काम करती रहेंगी। यानी फर्स्ट लेडी बनने के बाद भी नौकरी करती रहेंगी। इसलिए माला की जिम्मेदारी ज्यादा होगी। क्योंकि, जिल नौकरी में व्यस्त रहेंगी। माला के बाइडेन परिवार से काफी करीबी रिश्ते रहे हैं। वे बाइडेन फाउंडेशन में हायर एजुकेशन और मिलिट्री फैमिली विंग की डायरेक्टर भी हैं। हालांकि, ताजा नियुक्ति के बाद उन्हें फाउंडेशन से हटना पड़ेगा। क्योंकि, जिल की टीम में आने के बाद वे फेडरल एडमिनिस्ट्रेशन का हिस्सा बन जाएंगी।

ओबामा के दौर में भी व्हाइट हाउस में रहीं
माला 2008 में बराक ओबामा एडमिनिस्ट्रेशन से जुड़ीं। उस दौरान वे एजुकेशन सेक्रेटरी थीं। इसके अलावा स्टेट डिपार्टमेंट यानी विदेश विभाग में भी उन्होंने कुछ वक्त बिताया। महिलाओं से जुड़े वैश्विक मामलों पर बनी कमेटी में भी माला की अहम भूमिका थी।

अडिगा नेशनल सिक्युरिटी में ह्यूमन राइट्स डिपार्टमेंट को भी लीड कर चुकी हैं। माला इलिनोइस में रहती हैं और उन्होंने मिनेसोटा कॉलेज से पब्लिक हेल्थ और शिकागो लॉ स्कूल से ह्यूमन राइट्स में उपाधियां हासिल की हैं।

कुछ और अपॉइंटमेंट्स होंगे
माना जा रहा है कि बाइडेन की ट्रांजिशन टीम जल्द ही कुछ और नियुक्तियों की घोषणा करेगी। सोमवार या मंगलवार को चार से पांच अपॉइंटमेंट्स का ऐलान किया जा सकता है। माना जा रहा है कि इनमें भी भारतीय मूल के कुछ अफसर हो सकते हैं। डॉ. विवेक मूर्ति को बाइडेन का स्पेशल एडवाइजर हेल्थ बनाया जा सकता है। इसके अलावा वे फेडरल हेल्थ सेक्रेटरी भी बनाए जा सकते हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


भारतीय मूल की माला अडिगा एजुकेशन और फॉरेन पॉलिसी एक्सपर्ट हैं। बराक ओबामा के दौर में भी वे व्हाइट हाउस में काम कर चुकी हैं। (फाइल)

About Post Author

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleppy
Sleppy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply